छत्तीसगढ

मध्यप्रदेश के बाद तेज लाउडस्पीकर का मुद्दा छत्तीसगढ़ में भी आया चर्चा में….

रायपुर छत्तीसगढ़ उजाला:

अब छत्तीसगढ़ में भी तेज लाउडस्पीकर को बंद करवाने की चर्चा जोरों पर होने लगी।प्रदेश की विष्णुदेव सरकार क्या इस मामले पर बड़ा फैसला ले सकेगी।उत्तरप्रदेश के बाद मध्यप्रदेश में भी भाजपा सरकार आने के बाद धार्मिक स्थानों सहित सार्वजनिक जगहों पर तेज आवाज में बजने वाले लाउडस्पीकर के खिलाफ कार्रवाई जारी है।मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री मोहन यादव ने सत्ता में आते ही लाउडस्पीकर को हटाने की बात कही थी।अब प्रशासन विभिन्न धार्मिक स्थलों से तेज आवाज वाले लाउडस्पीकर हटाने में लग गया है।वहीं चार सौ के करीब की धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर की आवाज कम कराई गई है।

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में 462 धार्मिक स्थलों पर बैठक कर प्रशासन की तरफ से नियमों को समझाया गया है। लाउडस्पीकर और डीजे पर नजर रखने के लिए 8 दलों का गठन भी किया गया है। प्रशासन की कार्रवाई की चर्चा पूरे प्रदेश में बनी हुई है। इस बार होटल संचालक अपने यहाँ नया साल बनाने के लिए प्रशासन से लिखित अनुमति भी ले रहे है।छत्तीसगढ़ में भी हिन्दूवादी संगठन मध्यप्रदेश की तर्ज पर तेज लाउडस्पीकर के खिलाफ सरकार से कार्यवाही की अपेक्षा रखे हुए है।धार्मिक संस्थान सहित बडे डीजे पर अंकुश लगाने की बातें उठने लगी है।अब प्रदेश की नई सरकार इस फैसले को कब लेगी यह देखना बाकी है।पर बहुत से लोगो को भाजपा की सरकार से यह उम्मीद बनी हुई है कि छत्तीसगढ़ के मस्जिदों में तेज आवाज से आने वाली आवाजो पर अब अंकुश लगेगा।

Anil Mishara

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button