छत्तीसगढ

पटवारियों से मिलीभगत कर एक और कारनामा करने की जुगत में भूमाफिया….न्यायधानी में जमीनों का खेल फिर जोरो से…..

●छत्तीसगढ़ उजाला बिलासपुर●

बस्ती बसी नहीं की भिखारी पहले आ गए, यह तो सुना ही होगा आपने…इसी को चरितार्थ करते हुए बिलासपुर गौरवपथ स्थित मिनीमाता बस्ती क्षेत्र में बस्ती के हटने की सुबगुहाट होते ही कुछ भू माफिया प्रतिष्ठित अस्पताल संचालक व पटवारी के साथ मिलकर नए किस्से कहानियां गढ़कर पुराने स्थापित लोगों से स्वयं कब्जा प्राप्त करने के लिए प्रयास कर रहे हैं। ज्ञात हो कि मिनी बस्ती क्षेत्र में लगभग आधी जमीन शासकीय जमुना प्रसाद वर्मा महाविद्यालय के खेल मैदान की है साथ ही कुछ क्षेत्र पुराना पट्टा धारकों का और कुछ अवैध कब्जा वालों का इन्हीं सब लोगों से पुराने जमीन के दलाल जो की कॉलेज की जमीन को भी पूर्व में हड़पने का प्रयास किए थे।

वही आज भी पड़ोस के बड़े सफेद कॉलर वाले लोगों के साथ मिलकर, अतिक्रमण हटाने से पूर्व अपने कब्जे में लेने का घिनोना खेल लोगों की आंखों में धूलझोंक कर करना चाहते हैं। सबसे बड़ी मजे की बात यह है की इस क्षेत्र से स्वयं प्रदेश के उपमुख्यमंत्री भी वास्ता रखते हैं साथ ही देखना यह है की पूर्व की कांग्रेस सरकार में रहते जो लोग महाविद्यालय की जमीन पूरी तरह हड़प नहीं पाए , क्या अब वह सफल होंगे और राजस्व का कितना नुकसान कर पाएंगे…??

न्यायधानी में जमीनों के हेरफेर का बड़ा खेल वर्षों से चला आ रहा है।आम आदमी आज भी जमीनों को खोज रहा है।पटवारियो कार्यालय के चक्कर काटकर लोग त्रस्त हो चुके है।आम लोगो की कही सुनवाई नही है।जमीनों की अदला बदली के खेल में कई लोगो की जमीनों को ही गायब कर दिया गया है।

जिले के अफसरों जैसे कि कलेक्टर महोदय, निगम आयुक्त, राजस्व निरीक्षक आदि सभी के संज्ञान में यह होना चाहिए।मिनीमाता बस्ती में कितना बड़ा खेल किया जा रहा है। पटवारी की जानकारी में तो सारा मामला हैं , बाकी आप लोग देखें प्रशासन कितना उपकृत करता हैं प्रतिष्ठित पड़ोसियों और भू माफियों को…माननीय उपमुख्यमंत्री जी अपने निवास के आसपास की घटनाओं पर भी नजरे इनायत करे।लोगो को आपसे उम्मीद व अपेक्षाएं है।

Anil Mishara

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button