देश

इंडिगो की कंपनी ने किया नियमो का उल्लंघन

सरकारी एयरलाइन कंपनी एयर इंडिया के टिकट को इंडिगो की स्वामित्व वाली कंपनी बेच रही है। एयर इंडिया ने हाल ही में अपने टिकट बिक्री करने के अधिकार प्रतिस्पर्धी कंपनी को दे दिए हैं, जिसके खिलाफ केंद्रीय सतर्कता आयोग सीवीसी में शिकायत दर्ज कर दी गई है। इस एक्सक्लूसिव जानकारी के अनुसार एयर इंडिया ने अपनी प्रतिस्पर्धी कंपनी इंडिगो की सहयोगी इकाई ट्रेवलपोर्ट को यह अधिकार दे दिए हैं। ट्रेवलपोर्ट के पास केवल 20 फीसदी हिस्सेदारी है। सीवीसी को भेजी गई शिकायत में ट्रेवल एजेंट्स एसोसिएशन आॅफ इंडिया और ट्रेवल एजेंट्स फेडरेशन आॅफ इंडिया ने एयर इंडिया पर आरोप लगाते हुए कहा है कि कंपनी ने प्रतिस्पर्धा आयोग के नियमों को अनदेखा कर दिया है। टीएएआई और टीएएफआई ने पत्र में लिखा है कि एयर इंडिया ने ट्रेवलपोर्ट को टिकटों की बिक्री का अधिकार देने से पहले किसी तरह के नियमों का भी पालन नहीं किया, जिसके चलते कंपनी के साथ ही भारत सरकार को भी करोड़ों रुपये का नुकसान हुआ।
फिलहाल घाटे में चल रही एयर इंडिया को इससे किसी तरह का कोई फायदा नहीं होगा। टिकट बेचने का अधिकार देने के लिए किसी भी तरह के टेंडर को भी जारी नहीं किया गया।

Related Articles

Back to top button