छत्तीसगढ

*श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा रामोत्सव : कवर्धा के पटेल मैंदान में होगा दो दिवसीय संगीत और भक्तिमय सांस्कृतिक आयोजन*

*श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा रामोत्सव : कवर्धा के पटेल मैंदान में होगा दो दिवसीय संगीत और भक्तिमय सांस्कृतिक आयोजन*

*कवर्धा के महामाया मंदिर प्रागंण में अयोध्या से श्री रामलला प्राण-प्रतिष्ठा का सीधा प्रसारण एवं संगीतमय राम कथा का आयोजन*

*जिले के सभी मंदिर देवालयों सहित सभी घरों में दीया जलाने का आग्रह*

*मंदिरों में मानस गायन, दीप प्रज्जवलन, दीपदान जैसे कार्यक्रम होंगे आयोजित*

कवर्धा छत्तीसगढ़ उजाला●
अयोध्या में आयोजित किये जा रहे प्रभु ‘श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा रामोत्सव‘ के अवसर पर पूरे छत्तीसगढ़ सहित कवर्धा में 21 और 22 जनवरी को भव्य रूप से भक्तिमय सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। भक्तिमय संगीत सांस्कृतिक कार्यकम्र का आयोजन कवर्धा के सरदार पटेल मैदान में किया जाएगा। आयोजन की तैयारियां की जा रही है। कलेक्टर जनमेजय महोबे ने आयोजन की तैयारियों का अवलोकन किया और तैयांरियों का अंतिम रूप में देने के निर्देश दिए।

जिला मुख्यालय कवर्धा में 2 दिवसीय संगीत मय आयोजन और विकासखण्ड स्तर पर एक दिवसीय कार्यक्रम आयोजन किया जाएगा। इसकी तैयारी चल रही है। इसके साथ ही कबीरधाम जिले के ऐतिहासिक,पुरातात्विक, धार्मिक एवं पर्यटन महत्व के स्थल भोरमदेव मंदिर को भी श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा रामोत्सव पर विशेष साज-सज्जा किया जाएगा।
अयोध्या में प्रभू श्री रामलला प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा रामोत्सव‘ के अवसर पर कवर्धा जिला मुख्यालय में 22 जनवरी को सुबह से अनेक कार्यक्रम का आयोजन की शुरूआत होगी। इसके पहले दिन 21 जनवरी को सरदार पटेल मैदान में दो दिवसीय भक्तिमय सांस्कृतिक कार्यक्रम की शुरूआत शाम पांच बजे से होगी। शाम 5 बजे से 6 बजे तक छत्तीसगढ़ के लोक कलाकारों अस्था कला मंच कबीरधाम द्वारा संगीत मय श्रीराम कथा का आयोजन किया जाएगा। इसके बाद 6 बजे से 7ः30 बजे तक स्कूली छात्रों का कार्यक्रम होगा। 7ः30 बजे से रात्रि 10ः30 बजे तक भक्ति सागर समूह द्वारा भजन संध्या का आयोजन किया जाएगा।

दूसरे दिन 22 जनवरी को महामाया मंदिर के प्रांगण में आयोध्या में आयोजित प्रभु ‘श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा रामोत्सव‘ का सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक अयोध्या से श्री रामलला प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम का सीधा प्रसारण किया जाएगा। दोपहर 2 बजे से 6 बजे तक मानस गायन का आयोजन किया जाएगा। संध्या 6 बजे से 7 बजे तक दीपोत्सव और आरती की जाएगी। दीपोत्सव के बाद सरदार पटेल मैदान में रात्रि 7 बजे से 8ः30 बजे तक सुगम संगीत भगवा भारत का आयोजन किया जाएगा। इस कार्यक्रम के बाद रात्रि 8ः30 बजे से 11 बजे तक लोकरंग अर्जुंदा का कार्यक्रम आयोजित है।

प्रभु ‘श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा रामोत्सव‘ के लिए जिले में सभी मंदिर-देवालयों का विशेष स्वचछता अभियान भी चलाया जा रहा है। जिले के छोटे और बड़े ग्रामों में भी प्रभु ‘श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा रामोत्सव‘ की तैयारियां की जा रही है। गावों में ग्रामीणों और जनमानस तथा मानस मंडलियों, स्थानीय नगरीय निकायों, ग्राम पंचायतों, निजी संस्थानों, धार्मिक ट्रस्ट और मंदिर समितियों की भागीदारी से संगीत मय आयोजन भी करने की तैयारियां है।

प्रत्येक विकासखण्ड स्तर में एक प्रतिष्ठित मंदिर में 22 जनवरी को दीप प्रज्जवलन, दीपदान एवं लाईटिंग की व्यवस्था की जाए। मंदिर प्रांगण में क्षेत्र की मानस मंडलियों के मानस गायन का कार्यक्रम भी किया जाएगा।

*श्रीराम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा 22 जनवरी को दीपावली की तरह घरों में जलाएं दीपक – उपमुख्यमंत्री विजय शर्मा*

श्रीराम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा 22 जनवरी को अयोध्या में होने वाले भव्य आयोजन की तैयारियां छत्तीसगढ़ में हर्षोल्लास के साथ किया जा रहा है। उपमुख्यमंत्री श्री विजय शर्मा ने नागरिकों को आग्रह करते हुए कहा कि 22 जनवरी के दिन सभी अपने घरों में दीपावली की तरह दीपक जलाएं। उन्होंने कहा कि यह हम सबके लिए गौरव का पल है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान पर कबीरधाम जिले के भी मंदिरों और तीर्थ स्थानों पर स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है। जिले के जनप्रतिनिधि इन स्थानों में साफ-सफाई कर रहे हैं।
उपमुख्यमंत्री श्री शर्मा ने बताया कि अयोध्या में हो रहे आयोजन को लेकर छत्तीसगढ़ में भी खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। छत्तीसगढ़ की तरफ से भगवान राम के भोग के लिए चावल भेजा गया है। वहीं, सरकार ने इस मौके पर सभी स्कूल और कॉलेजों की छुट्टी घोषित कर दी है। 22 जनवरी को राज्य में ड्राय डे घोषित किया गया है।

*ननिहाल में भी प्राण प्रतिष्ठा समारोह की खुशियां दिखे, ऐसा हम सबका प्रयास होना चाहिए-पंडरिया विधायक श्रीमती भावना बोहरा*

पंडरिया विधायक श्रीमती भावना बोहरा ने कहा कि भगवान राम के जन्मभूमि अयोध्या में श्रीराम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा होगी। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि इस दिन हम सभी को दीपावाली की तरह ही घरों में दीपक जलाकर रौशन करना है। छत्तीसगढ़ वही कोसल है, जिसकी बेटी, माता कौशल्या ने भगवान राम को जन्म दिया। भगवान राम के इस ननिहाल में भी प्राण प्रतिष्ठा समारोह की खुशियां दिखे, ऐसा हम सबका प्रयास होना चाहिए। विधायक श्रीमती बोहरा ने नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि सभी मंदिरों एवं तीर्थस्थानों में स्वच्छता अभियान भी चलाएं और प्रभु श्रीराम चंद्र की आगमन के लिए दीपावली की तरह घर-घर दीप जलाकर का स्वागत करें।

Anil Mishara

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button