छत्तीसगढ जनसंपर्क

सूरजपुर : वृक्षारोपण के साथ हुआ शाला प्रवेश उत्सव

सूरजपुर : वृक्षारोपण के साथ हुआ शाला प्रवेश उत्सव

सूरजपुर : प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी विकासखण्ड रामानुजनगर में नवीन शिक्षा सत्र 2023 -24 के सफल क्रियान्वयन के लिए शासन के दिशा निर्देश एवं कलेक्टर संजय अग्रवाल, जिला शिक्षा अधिकारी रामललित पटेल के मार्गदर्शन में विकास खण्ड रामानुजनगर में आगामी शिक्षा सत्र की तैयारी की रूपरेखा विकास खण्ड शिक्षा अधिकारी पंडित भारद्वाज के द्वारा किया गया है। पंडित भारद्वाज सत्र प्रारंभ से पूर्व सभी संकुल प्राचार्य,

जन शिक्षक, तथा प्रधान पाठकों की बैठक व कार्यशाला आयोजित कर शाला संचालन के सम्बंध में चर्चा किया गया। सभी विद्यालयों को 26 जून 2023 से प्रारंभ कर दिया गया है।

बीईओ ने सभी संस्था प्रमुखों को निर्देशित किया है, कि शाला की साफ- सफाई, अनुपयोगी सामग्री का नियमानुसार अपलेखन, मुख्यमंत्री शाला जतन योजना के तहत निर्माण व मरम्मत के गुणवत्तापूर्ण कार्य तत्काल पूर्ण करें। गत वर्ष विकास खंड रामानुजनगर में हमर विद्यालय-सुघर विद्यालय कार्यक्रम अभियान के रूप में चलाया गया था। जिसके अंतर्गत सभी विद्यालयों को आकर्षक ढंग से रंगाई-पोताई,

प्रिंटरीच, शिक्षकों व विद्यार्थियों की नियमित उपस्थिति, विद्यार्थियों का शैक्षिक स्तर सुधारने हेतु विशेष ध्यान दिया गया। जिसकी सराहना तत्कालीन कलेक्टर एवं जनप्रतिनिधियों के द्वारा किया गया तथा इस कार्यक्रम को लगातार चलाने का निर्देश दिया गया। इस वर्ष भी स्कूलों में अच्छी गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा के लिए हमर विद्यालय-सुघर विद्यालय कार्यक्रम चलाया जाएगा। विकास खंड में शाला प्रवेश उत्सव कार्यक्रम प्रत्येक विद्यालय में 26 जून 2023 से 05 जुलाई 2023 तक, संकुल स्तर पर 26 जून 2023 से 10 जुलाई 2023 तक तथा विकास खण्ड स्तर पर 10 जुलाई 2023 से 15 जुलाई 2023 के बीच समारोह पूर्वक आयोजित किया जा रहा है।

प्रथम दिवस प्राथमिक शाला पंचवटी, चिटकाहीपारा कोट, नेतापारा परशुरामपुर, राजपुर, त्रिपुरेश्वरपुर, परसापारा, भदरापारा, माध्यमिक शाला चिटकाहीपारा कोट, राजपुर, त्रिपुरेश्वरपुर, सहित कई विद्यालयों में शाला प्रवेश उत्सव समारोह पूर्वक जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में मनाया गया। नए शिक्षा सत्र के प्रथम दिवस बच्चों को नए नए पाठ्यपुस्तक, गणवेश के साथ साथ तिलक – चंदन, मिष्ठान से स्वागत किया गया।

बच्चे ग्रीष्मावकाश के पश्चात अच्छे रंगाई पोताई किये हुए स्कूल में आने पर बहुत उत्साहित व खुश नजर आए। बीईओ के द्वारा सभी स्कूलों में वृक्षारोपण, किचन गार्डन विकसित करने का निर्देश दिया गया है। बीईओ ने ग्रामवासियों से समस्त 6 से 14 आयु वर्ग के बच्चों का सर्वे करते हुए शत-प्रतिशत शाला प्रवेश कराने का आग्रह किया है।  संस्था प्रमुख विद्यालय में प्रत्येक दिवस 09.45 बजे प्रार्थना सभा का आयोजन करें।

जिसमें सभी शिक्षक तथा विद्यार्थियों की उपस्थिति अनिवार्य हो। प्रार्थना सभा में बीईओ, एबीईओ, बीआर सी, बीपीओ, संकुल प्राचार्य तथा सभी जन शिक्षक क्रम बदलते हुए विकास खण्ड के किसी भी स्कूल में अनिवार्य रूप से सम्मिलित होंगे। आज प्राथमिक, माध्यमिक विद्यालय सोनपुर के प्रार्थना सभा में बीईओ शामिल हुए। बीईओ, एबीईओ, बीआरसी के द्वारा स्कूलों का सतत भ्रमण, निरीक्षण, मॉनिटरिंग से स्कूलों में प्रथम दिवस से ही शिक्षा के प्रति अच्छा वातावरण बन रहा है।

Anil Mishara

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button