छत्तीसगढ जनसंपर्क

महासमुंद : महासमुन्द के 3248 ग्रामीणों को आवास निर्माण के लिए मिली 10.21 करोड़ रूपए की राशि…..

महासमुंद : महासमुन्द के 3248 ग्रामीणों को आवास निर्माण के लिए मिली 10.21 करोड़ रूपए की राशि

महासमुंद :- मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य के 1 लाख 16 हजार 737 युवाओं के खाते में बेरोजगारी भत्ते की तीसरी किश्त के रूप में 31 करोड़ 69 लाख 60 हजार रुपए की राशि ऑनलाईन अंतरित की।

इसी तरह प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण अंतर्गत 59 हजार से अधिक हितग्राहियों को 151 करोड़ रुपए की राशि जारी की। मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में तकनीकी शिक्षा मंत्री उमेश पटेल, विधायक रामपुकार सिंह, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, कौशल विकास एवं तकनीकी शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला, सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास प्रसन्न आर. भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने महासमुंद जिला अंतर्गत प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत कुल 3248 हितग्राहियों को 10 करोड़ 21 लाख 86 हजार रुपए की राशि ऑनलाइन जारी की। उन्होंने प्रथम किस्त के रूप में 1371 हितग्राहियों को 34 करोड़ 27 लाख 05 हजार,

द्वितीय किस्त 914 हितग्राहियों को 36 करोड़ 66 लाख 07 हजार, तृतीय किस्त के रूप में 694 हितग्राहियों को 2 करोड़ 75 लाख 74 हजार एवं चतुर्थ किस्त के रूप में 269 हितग्राहियों को 37 लाख 30 हजार रुपए की राशि उनके खाते में ऑनलाइन अंतरित की। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में वीडियों कांफ्रेंसिंग के दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उषा पटेल, जिला पंचायत उपाध्यक्ष लक्ष्मण पटेल, जनपद पंचायत अध्यक्ष यतेन्द्र साहू,

जिला पंचायत सदस्य बसंता ठाकुर, जिला पंचायत सीईओ एस. आलोक सहित जनपदों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं प्रधानमंत्री आवास योजना व बेरोजगारी भत्ता योजना के हितग्राही मौजूद थे।

ज्ञात है कि जिले में योजना अंतर्गत कुल स्वीकृत 73266 आवास के विरूद्ध 57118 आवास पूर्ण हो गए हैं। जो कि पूर्णता का 77.96 प्रतिशत है। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान प्रधानमंत्री आवास योजना के 20 हितग्राही मौजूद थे। जिन्हें प्रमाण पत्र वितरित किया गया।

ग्राम कोसरंगी की कुंती बाई ने बताया कि आज पहली किस्त मिलने से घर बनाने का कार्य प्रारम्भ हो जाएगा। वे अपने कच्चे मकान में 5 परिवार के साथ रहती हैं।

लेकिन आवास योजना की राशि आ जाने से उनके पक्के घर का सपना पूरा होगा। इसी ग्राम की मीरा बाई ने बताया कि आज उन्हें तीसरा किस्त प्राप्त हो गया है और घर भी लगभग पूर्णता की ओर है। अब जल्द ही अधूरे काम पूर्ण करके पक्के आवास में परिवार सहित रहेंगे। उन्होंने राशि जल्द स्वीकृत करने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का धन्यवाद ज्ञापित किया है।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने आज बेरोजगारी भत्ता योजना के तहत जिले के कुल पंजीकृत 7027 बेरोजगार युवकों में से बेरोजगारी भत्ता के लिए स्वीकृत 4789 युवकों को उनके खाते में 1,19,72,500 रुपए की राशि ऑनलाइन  अंतरित किए। जिले के पात्र हितग्राही भी मुख्यमंत्री निवास में आयोजित कार्यक्रम में भी शामिल हुए।

कौशल विकास प्राधिकरण के सहायक संचालक अशोक साहू ने बताया कि इन युवकों को कौशल प्रशिक्षण के लिए कैम्प लगाकर काउंसलिंग की जा रही है। वर्तमान में 269 युवक 11 विभिन्न व्यवसायों में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहें हैं।

ग्राम रेमड़ा के धनीराम सेठ ने बताया कि वे स्नातक हैं तथा वे पीजीडीसीए भी कर चुके हैं। बेरोजगारी भत्ता के तहत उन्हें आज तीसरा किस्त प्राप्त हुआ। उन्होंने बताया कि

वे महासमुंद आईटीआई में ड्राइवर कम मैकेनिक ट्रेड में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहें हैं। उन्हें विश्वास है कि प्रशिक्षण उपरांत उसे रोजगार प्राप्त होगा। इसी तरह ग्राम खम्हरिया के दिनेश सिंह ने तीसरी किस्त मिलने पर खुशी जाहिर की है। वे भी ड्राइवर कम मैकेनिक प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं।

Anil Mishara

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button