छत्तीसगढ

*प्रशासन की शह पर जिले में चल रहे अवैध ईटा भट्ठे* *जानकारी के बावजूद जिले के कलेक्टर व एसडीएम गहरी निद्रा में…..*

*बलरामपुर जिले में चल रही अवैध ईटा भट्टी*

*कलेक्टर एक्का की जानकारी में बड़े पैमाने पर फलफूल रहा है अवैध कारोबार*

*एसडीएम कुजूर खानापूर्ति के नाम से कर रहे दिखावे की कार्यवाही*

बलरामपुर: छत्तीसगढ़ उजाला● सरकार एक तरफ जनहित के कामो को लेकर विधानसभा में है वही बलरामपुर जिले का प्रशासन गहरी निद्रा में नजर आ रहा है।जिले में अवैध ईटा भट्टे का काम बेखौफ होकर किया जा रहा है।मामले की कई बार शिकायत की जा चुकी है।पर जिले के कलेक्टर और एसडीएम केवल कार्यवाही की बात कर रहे है।पर अब तक कोई भी ठोस कार्यवाही इस अवैध कारोबार को बंद करवाने के लिए नही की गई है।

प्रदेश की नई सरकार से सभी को स्वच्छ प्रशासन की उम्मीद व आशा थी।पर बलरामपुर जिले में आज भी पूर्ववर्ती सरकार की विचारधारा से ओतप्रोत कार्यशैली नजर आ रही है।नियमो की खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही है।पर जिले के कलेक्टर केवल हवा हवाई बाते ही कर रहे है।इस मामले में हमने कलेक्टर एक्का से बात की तो उनका कहना था कि मामले में सत्यता तो है मैंने एसडीएम को कार्यवाही के लिए कहा है।हम सभी अवैध ईंट भट्ठे को बंद करवा देंगे।पर कब तक बंद करवाएंगे इस सवाल का जवाब कलेक्टर महोदय के पास नही था।हमने अवैध भट्टो की सूची भी कलेक्टर महोदय को उपलब्ध करवाई थी। पर अब तक कोई भी कार्यवाही जिला प्रशासन की नजर नही आई।

●मामले में जिले के एसडीएम कुजूर का अलबेला जवाब●

आपके जिले में अवैध ईंट भट्ठे संचालित हो रहे है इस पर महोदय का जवाब था कि हमारे पास स्टाफ कम है।एक भट्ठे के ऊपर कारवाही करने में 3 से चार घंटे लग जाते है।क्या क्या काम करूंगा,ऑफिस में भी बहुत काम रहता है।मेरे पास समय ही नही है।जिले का लॉ एन आर्डर मुझे ही देखना पड़ता है।आपके पास अवैध ईंट भट्टों की जो सूची है वो मेरे पास भी है मैं समय निकालकर कार्यवाही करूंगा।कब तक करूगा यह मैं नही बता सकता।एक जगह मैने कार्यवाही की है।बहुत जल्द सब पर कार्यवाही करूंगा।मुझे अभी राहुल गांधी जी की व्यवस्थाये भी देखनी है।कुलमिलाकर केवल खानापूर्ति करने का काम किया जा रहा है।इन महाशय की नियुक्ति भी पिछली भूपेश सरकार के द्वारा आयोजित 2022 पीएससी से हुई थी।

कुल मिलाकर भाजपा के नेताओ का कहना है की जिले में सारे अवैध चिमनी भट्टे एसडीएम व कलेक्टर की जानकारी में है।पर प्रशासन कोई भी कार्यवाही नही करना चाहता है।पूरे जिले में खेल चल रहा है।लेनदेन का लंबा हिसाब किताब है।अब इस मामले में प्रदेश के मुख्यमंत्री क्या कार्यवाही करेंगे।अब यह देखना बाकी है।

Anil Mishara

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button