देश

देश के अन्य राज्यो में भाजपा के बड़े स्टार प्रचारक बने मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय….* *भाजपा में सीएम साय का बढ़ता ग्राफ…..* झारखंड और उड़ीसा में कर रहे रैलियां व जनसभाएं….

*लोकसभा परिणाम के बाद विष्णुदेव सरकार कर सकती है मंत्रिमंडल में बड़ा बदलाव.....*

छत्तीसगढ़ उजाला रायपुर●

छत्तीसगढ़ की अपनी अलग ही राजनीति है यहाँ तीन  चरणों में चुनाव संपन्न होना था जो कि अब पूरा हो गया है।छत्तीसगढ़ के चुनाव मे मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय की मेहनत रंग लाएगी ऐसा पार्टी नेताओं का कहना है।इस चुनाव में मुख्यमंत्री का काफिला प्रदेश के लगभग सभी क्षेत्रों में नजर आया।जहाँ भी मुख्यमंत्री की सभाएं हुई वहाँ जनता की भारी भीड़ उनको सुनने आती थी।अपनी बेहतरीन वाकपटुता से मुख्यमंत्री लोगो तक मोदी जी की बातों के साथ अपने चार माह की योजनाओं को बताने में सफल भी रहे।प्रदेश में पहले यह हल्ला था कि 11 लोकसभा में भाजपा के हिस्से में 8 या 9 सीट आएगी।भाजपा के ही कुछ मठाधीश भी यही आंकड़ा बता रहे थे।कही न कही कांग्रेस भी अपनी इज्जत बनाने के लिए संघर्ष करती नजर आ रही थी।पर कांग्रेस के टिकट वितरण से बहुत सी बातें बाजारों में भी आई।भाजपा नेताओं ने इस बात को खुलकर अपनी सभाओं में भी कहा कि कांग्रेस को दावेदार नही मिल रहे है।कही न कही कांग्रेस की इस कमजोरी का फायदा भाजपा उठाने में सफल ही रही। हमारे मीडिया समूह को भी जनता से  कई जानकारी मिली,उसके हिसाब से प्रदेश में ग्यारह में ग्यारह सीट की जीत भाजपा को मिलेगी।ऐसा अनुमान है।

इस राजनैतिक खेल को देश के चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह अपने तरीके से खेलते है।हार की संभावना को भी जीत में बदलने का हुनर अमित शाह के पास है।इसके साथ ही छत्तीसगढ़ की सत्ता में कई बातों की चर्चा भी बहुत सी है।छत्तीसगढ़ में सत्ता को आये अभी चार माह ही हुआ है।पर कुछ मंत्री सुपर सीएम बनने का काम करने से भी नही चूक रहे है।सूत्रों के अनुसार सुपर सीएम बनने वालो की संख्या भी करीब चार के आसपास है।पर भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व आदिवासी नेता विष्णु देव साय पर अटूट विश्वास रखा हुआ है।केंद्रीय नेतृत्व ने सीएम नियुक्ति बहुत कुछ सोचकर ही की है।

 

कुछ दिन पहले ही दिल्ली के एक बड़े न्यूज़ चैनल के रिपोर्टर ने मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय से भी सुपर सीएम की बात को लेकर सवाल पूछा था।इस पर मुख्यमंत्री ने सधा हुआ बयान देकर अपनी राजनैतिक कुशलता का भी परिचय दिया था।लोकसभा चुनाव के बाद प्रदेश की राजनीति में बड़ा बदलाव होना निश्चित ही है।और वो बहुत जल्द हम सभी को नजर भी आएगा।

मुख्यमंत्री साय अपनी सरकार की योजनाओं को जनमानस तक पहुचाने की बात कहते आ रहे है।उसको पूरा करने की योजनाओं में वो सफल भी होंगे ऐसा पार्टी के ही नेताओ का कहना है।शांत व सरल मुख्यमंत्री के साथ ही जनता के काम पर इनका विशेष ध्यान रहता है।इसके साथ ही केंद्रीय नेतृत्व इस बड़े आदिवासी नेता की लोकप्रियता का लाभ पार्टी को मिल सके इसके अनुसार छत्तीसगढ़ से लगे झारखंड व उड़ीसा में होने वाले चुनाव में स्टार प्रचारक के रूप में मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय को एक बड़ी जिम्मेदारी भी दी है।उड़ीसा और झारखंड में मुख्यमंत्री साय ने अब तक कई सभाएं व रैलियां की है जिसमे बड़ी संख्या में जनता को देखा जा रहा है।

कुल मिलाकर एक बात तो तय है मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय का ग्राफ पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व के पास बढ़ा है।अपनी सहजता व सरलता के नाम से मुख्यमंत्री साय काफी प्रसिद्ध है।भाजपा में उनकी बातों को सुना जाता है।आने वाले लोकसभा के परिणाम के बाद मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय खुलकर अपनी सरकार को चलाएंगे।सुपर सीएम बनने वालो के पर अब केंद्रीय नेतृत्व कम करेगा।राजनीति में बहुत कुछ संभव है अब आगे क्या होगा।यह भी बहुत जल्द सभी को नजर आएगा।

Anil Mishara

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button