छत्तीसगढ

*सियासत……* *छत्तीसगढ़ में विष्णुदेव सरकार के नए डीजीपी के खेल में आया नया नाम……* *मंत्री के उड़न खटोले की कहानी…..*

●छत्तीसगढ़ उजाला सियासत●

आईपीएस जीपी सिंह के आने से कई लोगो का बिगड़ा खेल….डीजीपी की मिल सकती बड़ी जिम्मेदारी…..

छत्तीसगढ़ पुलिस महकमे में बडे बदलाव की सुगबुगाहट शुरू हो चुकी है।पूर्ववर्ती भूपेश बघेल सरकार ने आईपीएस जी पी सिंह को परेशान करने का हर हथकंडा अपनाया था।राजद्रोह का मामला बनाने तक खेल किया था।अब नई सरकार के आते ही बदलाव की कहानियां सामने परिलक्षित होती नजर आने लगी है। आईपीएस जी पी सिंह को कैट ने बहाल करने का आदेश दे दिया है. जी पी सिंह को कैट से अपने पक्ष में फैसला आते ही छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय ने भी उनके पक्ष में ही फैसला दे दिया है।सारे मामलों में रोक लगाने का आदेश दे दिया।आईपीएस जी पी सिंह अब बहुत जल्द अपनी जगह पर लौटकर आ रहे हैं, इस खबर से उनके चाहने वालो में खुशी का माहौल है तो वही दूसरी ओर पूर्ववर्ती सरकार के मदमस्त अफसरों की जान आफत में आ गई है.

वैसे आईपीएस जीपी सिंह की अपनी एक अलग कार्यशैली है।जिस जिले व संभाग में पदस्थ रहे वहाँ कानून व्यवस्था बेहतरीन ही रही।अपने अलग अंदाज के साथ जाने जाते रहे। विभाग के लोगो के साथ ही आम जनता के हितों पर विशेष ध्यान देकर कार्य संपादित करते रहे है।कुल मिलाकर यह कह सकते है कि आईपीएस जीपी सिंह एक बेहतरीन शख्सियत है।जीपी सिंह जैसे अफसर को भूपेश सरकार में प्रताड़ित करने का ही काम किया गया था। अब नौकरी में बहाली किए जाने के आदेश के आते ही छत्तीसगढ़ के पुलिस महकमे में एक चर्चा जोरों पर बनी हुई है।

अब कई अफसरों के साथ ही आईपीएस जी पी सिंह भी डीजीपी की दौड़ में शामिल हो चुके है।सूत्रों के अनुसार आईपीएस जीपी सिंह का डीजीपी बनना लगभग तय हो चुका है।अशोक जुनेजा के रिटायर्ड होने के पूर्व ही इनके आदेश पर सरकार की मुहर लग जायेगी। अरुण देव गौतम,एसआरपी कल्लूरी हिमांशु गुप्ता,पवन देव इन सभी नामो की चर्चा अब तक बनी हुई है।विष्णुदेव सरकार की नजर में जो अफसर उचित होगा वही डीजीपी की कुर्सी में बैठेगा।बहरहाल जीपी सिंह की अपनी एक अलग इमेज है।अपने बेहतरीन काम की वजह से जाने जाते है।सत्ता के गलियारे में एक बात यह जरूर सुनने में आ रही है कि अब डीजीपी की कमान आईपीएस जीपी सिंह को ही मिलेगी।अब सरकार के फैसले का इंतजार है।

●मंत्री को नही छूट रहा उड़न खटोले का लगाव●

छत्तीसगढ़ के एक मंत्री की चर्चा आज कल दिल्ली दरबार तक भी होने लगी है मंत्री बनने के पहले अपनी शालीनता से जाने जाते थे ।जब से मंत्री बने है आसमान में ही उड़ रहे है।दिल्ली हाईकमान को बड़ा भरोसा था कि यह व्यक्ति लंबी रेस का घोड़ा बनेगा।पर अब दिल्ली वालों को भी इस नेता की हकीकत समझ मे आने लगी है।मंत्री जी को आज कल सड़क मार्ग में चलना रास नही आता है।मंत्री जी ज्यादातर हर प्रवास में उड़न खटोले से जाने की इच्छा रखते है।पार्टी के लोगो का कहना है कि सूबे के मुखिया से ज्यादा यह मंत्री उड़न खटोले में सफर करते है।मंत्री जी को किसी भी कार्यक्रम में जाने के लिए अगर उड़न खटोला नही मिलता है तो वो कार्यक्रम में जाना भी मुनासिब नही समझते।वैसे इस नए नवेले मंत्री के बहुत से किस्से है।

बाजारों में मंत्री जी के किस्सों पर लोग ठहाके लगाते नजर आ जाते है।चर्चा है कि मंत्री युवा विधायक के सामने नतमस्तक रहते है,बोला जाता है कि युवा विधायक मंत्री को बड़े व्यापारियों से मिलवाकर दाना पानी अच्छा दिलवा देता है।इसलिए विधायक की मंत्री बंगले में खूब चलती है।मंत्री जी अपने खास बंदे को सरकारी बैठकों में भी बैठालते है।कुल मिलाकर नए नवेले मंत्री सारे नियमो की धज्जियां उड़ाने में लगे है।वही मंत्री के सारे कारनामे उनके विरोधी दिल्ली हाईकमान तक पहुचाने में लग चुके है।लोकसभा चुनाव के बाद पार्टी हाईकमान छत्तीसगढ़ सरकार में बड़े बदलाव करेगी.इसकी चर्चा राजनैतिक गलियारों मे भी खूब हो रही है।हम तो बस यही कहेंगे कि मंत्री जी इतना भी आसमान में मत उड़ो की सम्हलने का भी मौका न मिले।

Anil Mishara

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button