देश

दुल्हन के हाथों से मेहंदी भी नहीं छुटी …सनकी भाई ने शादी वाले घर में किसी का काटा गला तो किसी का सिर, खुद को भी मारी गोली

Latest National News : मैनपुरी . उत्तर प्रदेश के मैनपुरी की एक खबर ने हर किसी का दिल दहलाकर रख दिया है. जिले के अरसारा गांव में घर के बड़े लड़के ने परिवार और रिश्ते के 5 लोगों को फरसे से काटकर मौत के घाट उतार दिया. वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी ने भी गोली मारकर खुदकुशी कर ली. यही नहीं, आरोपी ने पत्नी और मामी पर भी जान लेने की नीयत से हमला किया. लेकिन किसी तरह उनकी जान बच गई. फिलहाल गंभीर हालत में दोनों घायल महिलाओं को सैफई मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है.

जिले के किशनी थाना इलाके में आने वाले अरसारा गोकुलपुर गांव में शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात यह जघन्य हत्याकांड हुआ है. बताया गया कि गांव में सुभाष यादव (65) के छोटे बेटे सोनू यादव (23) की बीते गुरुवार को ही शादी हुई थी. बारात लेकर परिवार-रिश्तेदार इटावा जिले के गंगापुरा गए हुए थे और दुल्हन को विदा कराकर घर लाए.

रात तक हंसते गाते सोए, सुबह पसरा मातम

घर में हंसी-खुशी का माहौल था. कुछ रिश्तेदार चले गए थे तो कई अभी शादी वाले घर में ठहरे हुए थे. शुक्रवार रात तक खूब नाच-गाना हुआ. खाने-पीने के बाद मेहमान और घर के लोग कमरों और छतों पर सोने चले गए. इसी बीच, आधी रात को सुभाष यादव के शादीशुदा बड़े बेटे सोहवीर यादव को पता नहीं क्या हुआ कि उसने (फरसे) धारदार हथियार से छत पर सो रही नई-नवेली बहू को काटा और फिर उसी चारपाई पर सो रहे अपने नवविवाहित छोटे भाई सोनू को काट दिया.

इसके बाद हैवान बन चुका आरोपी उतरकर नीचे आया और फिर उसने कमरों में सो रहे एक और छोटे भाई अभिषेक समेत बहनोई रामकृष्ण यादव पर जानलेवा हमला कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया. साथ ही परिवार के दोस्त दीपक की भी फरसे से काटकर बेरहमी से हत्या कर डाली.

घटना के बाद से पूरे इलाके में सनसनी फैली हुई है। परिवार में कोहराम मचा हुआ है। एसपी सहित जिले के अधिकारी मौके पर मौजूद हैं। पूरा मामला किशनी थाना क्षेत्र के गोकुलपुरा अरसारा का है। बताया जा रहा है कि आरोपी नोएडा में एक प्राइवेट कंपनी में काम करता है और अपने सगे भाई की शादी में शामिल होने के लिए घर आया हुआ था।

नई नवेली दुल्‍हन को भी नहीं छोड़ा

पूरा मामला थाना किशनी क्षेत्र के ग्राम गोकुलपुर अरसरा का है। यहां के निवासी सोनू उर्फ अरुण पुत्र सुभाष चंद्र की कल शाम को बारात जनपद इटावा के गंगापुर से लौट कर आई थी। सभी लोग शादी के जश्न में डूबे हुए थे और खाना खाकर सभी सो गए थे कि तभी रात्रि में लगभग 2:00 बजे सोनू के बड़े भाई शिववीर पुत्र सुभाष चंद्र ने फरसे से हमला कर दिया।

आरोपी ने अपने ही भाई सोनू, भुल्लन, बहनोई सौरव, भाई की पत्नी सोनी, ओर अपने दोस्त दीपक की निर्मम हत्या कर दी और उसके बाद शिववीर ने खुद को भी गोली मार ली। वहीं मृतक आरोपी शिववीर ने अपनी पत्नी डोली और मामी सुषमा पर भी हमला किया था, जिसमें दोनों घायल हैं। दोनों घायलों का उपचार जिला अस्पताल में जारी है। पुलिस का कहना है कि अभी हत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है। कहा जा रहा है कि गंभीर रूप से घायल दो महिलाओं के बयान देने की हालत में आने पर कुछ जानकारी मिल पाएगी। इसके अलावा पुलिस अन्य लोगों से पूछताछ में जुट गई है।

घर में था खुशी का माहौल, लेकिन पता नहीं क्‍या हुआ…

पुलिस ने घर के मुखिया सुभाष यादव से भी इस घटना के पीछे के कारणों को जानने की कोशिश की। बुजुर्ग ने बताया कि उनका बड़ा बेटा और हत्यारोगी शिववीर किशनी कस्बे में सरकारी अस्पताल के बाहर फोटोकॉपी करने का काम करता था। बीते दिनों से वह दुकान में घाटे के चलते कुछ रुपये भी परिजनों से मांग रहा था। इसको लेकर विवाद भी हुआ। हालांकि, घर में छोटे बेटे की शादी आने पर सबकुछ सही था। हंसी खुशी का माहौल था। नई बहू को घर में दो दिन नहीं हो पाए थे कि इतनी बड़ी घटना हो गई।

 

Anil Mishara

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button