देश

देश में हीट वेव का कहर 101 की मौत, 5 राज्यों में लू का अलर्ट

Latest Wather Update News : बलिया . एक ओर गुजरात और राजस्थान में तेज बारिश हो रही है, तो वहीं उत्तर प्रदेश से बिहार तक भीषण गर्मी का कहर जारी है. दोनों राज्यों में हीट वेव मौत बनकर टूटी है. जहां यूपी के बलिया में पिछले 4 दिन में 57 लोगों ने दम तोड़ा है. तो वहीं बिहार में 24 घंटे में 44 लोगों की मौत हुई है. इनमें से पटना में अकेले 35 की जान गई है. यूपी में मौत की वजह का पता लगाने के लिए लखनऊ से स्वास्थ्य विभाग की एक टीम बलिया पहुंच गई है. इसी बीच देश के 5 राज्यों में हीट वेव का अलर्ट जारी किया गया है.

बलिया में स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंची

बलिया के जिला अस्पताल में भले ही चार दिनों में 57 लोगों की जान गई हो लेकिन बलिया के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ. जयंत कुमार का दावा है कि जिले में सिर्फ दो लोगों की मौत हीट स्ट्रोक (लू) से हुई है. लखनऊ से बलिया पहुंचे संचारी रोग निदेशक डॉ ए के सिंह और मेडिकल केयर डायरेक्टर के एन तिवारी ने जिला अस्पताल के वार्डों का निरीक्षण किया. हालांकि, उन्होंने बुजुर्ग मरीजों की मौत की प्रमुख वजह गर्मी होने से इनकार किया.

मौत की वजह गर्मी बताने वाले अधिकारी को हटाया गया

जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमएस) डॉ दिवाकर सिंह को मौत की वजह के बारे में कथित तौर पर लापरवाह टिप्पणी करने के बाद हटा दिया गया और आजमगढ़ भेज दिया गया. उन्होंने शुक्रवार को कहा था कि गर्मी की वजह से अस्पताल में 20 से अधिक मरीजों की मौत हो गई.

डॉ एसके यादव को उनकी जगह नया सीएमएस बनाया गया है. CMO जयंत कुमार ने बताया कि रिकॉर्ड के मुताबिक, 54 मौतों में से 40% मरीजों को बुखार था, जबकि 60% अन्य बीमारियों से पीड़ित थे. अभी तक जिले में लू से सिर्फ दो लोगों की मौत हुई है. CMS यादव ने बताया कि अस्पताल पर दबाव बड़ रहा है. यहां हर रोज 125-135 मरीज भर्ती हो रहे हैं.

कब कितने लोगों की हुई मौत?

15 जून को जिला अस्पताल में 154 मरीज भर्ती किए गए. इनमें से 23 की विभिन्न वजहों से मौत हो गई. जबकि 20 की मौत 16 जून को हुई. वहीं 11 की मौत 17 जून को हुई. इन सभी की उम्र 60 साल से ऊपर है. रविवार को भी तीन मरीजों की मौत हुई.

मरीजों को क्या क्या आ रहीं दिक्कतें?

हेल्थ डायरेक्टर डॉ एके सिंह ने बताया कि इलाज के लिए आने वाले ज्यादातर मरीजों की शिकायत है कि उन्हें पहले सीने में दर्द, सांस लेने में तकलीफ और फिर बुखार हुआ. हम यूरिन टेस्ट, ब्लड टेस्ट और अन्य टेस्ट करवा रहे हैं. बाकी मरीज डर और दहशत की वजह से अस्पताल पहुंच रहे हैं. भर्ती किए गए अन्य मरीजों में वे लोग भी शामिल हैं, जिन्हें पहले से कोई बीमारी है. रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की वजह साफ हो पाएगी.

डिप्टी सीएम बृजेश पाठक ने बताया, अधीक्षक को हटाया गया है क्योंकि उन्होंने लू के बारे में जानकारी के बिना लापरवाह टिप्पणी की थी. राज्य के सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों और मुख्य चिकित्सा अधीक्षकों को प्रत्येक रोगी की पहचान करने और उन्हें उपचार प्रदान करने का निर्देश दिया गया है.

अखिलेश यादव ने साधा निशाना

समाजवादी पार्टी के चीफ अखिलेश यादव ने मौतों को लेकर राज्य सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, बलिया जिला अस्पताल में 24 घंटे में लू और हीट स्ट्रोक से 36 लोगों की मौत दुर्भाग्यपूर्ण और शर्मनाक घटना है. बलिया में आठ दिनों में 121 मरीजों की मौत हो चुकी है. गरीबों को अस्पतालों में इलाज नहीं मिल रहा है. उन्होंने आरोप लगाया, ”भाजपा सरकार न तो जनता को बिजली दे पा रही है और न ही इलाज करा पा रही है.”

बिहार में जानलेवा साबित हो रही गर्मी

बिहार में 22 जिलों में एक्सट्रीम हीटवेव का कहर जारी है. बिहार में भी गर्मी जानलेवा साबित हो रही है. राज्य में पिछले 24 घंटे में हीट वेव से 44 मरीजों की मौत हुई है. इनमें से पटना में पिछले 24 घंटे में 35 लोगों की जान गई है. जबकि अन्य जिलों में 9 लोगों की मौत हुई है. बेगूसराय, सासाराम और नवादा में दो–दो लोगों की मौत हुई, जबकि भोजपुर और औरंगाबाद में एक–एक व्यक्ति की जान गई. मौसम विभाग ने 19 जून तक भीषण गर्मी का अलर्ट जारी किया है. सरकार ने लोगों को दोपहर के वक्त घर से बाहर नहीं निकलने की सलाह दी है.

आज भी इन राज्यों में हीट वेव का अलर्ट

मौसम विभाग ने ओडिशा, झारखंड और छत्तीसगढ़ के कई हिस्सों और दक्षिण बिहार के कुछ हिस्सों में बहुत अधिक लू चलने की संभावना जताई है. इसके अलावा आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में भी हीट वेव की स्थिति बनी हुई है. वहीं, विदर्भ के कुछ हिस्सों, पूर्वी मध्य प्रदेश, पूर्वी उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में अलग-अलग इलाकों में भी हीट वेव का अलर्ट जारी किया गया है.

विदर्भ, छत्तीसगढ़, झारखंड, ओडिशा, तेलंगाना में अगले तीन दिन तक हीट वेव की स्थिति जारी रहने की संभावना है. वहीं, तटीय आंध्र प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, पूर्वी मध्य प्रदेश, पूर्वी उत्तर प्रदेश में दो दिन तक हीट वेव जारी रहने की संभावना है.

असम में बाढ़ जैसी स्थिति

असम में बाढ़ जैसी स्थिति बन गई है. यहां करीब 35000 लोग प्रभावित हुए हैं. सिक्किम में भारी बारिश और भूस्खलन के चलते 100 घर तबाह हो गए. चक्रवात बिपरजॉय के चलते राजस्थान के तीन जिलों में बाढ़ जैसी स्थिति बनी हुई है. जम्मू में बारिश और तेज हवाएं चल रही हैं. जबकि हिमाचल में तूफान को लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है.

दिल्ली-NCR में हल्की बारिश

दिल्ली-NCR में सोमवार को गर्मी से राहत मिली. यहां सुबह से ही बारिश जारी है. मौसम विभाग (IMD) ने रविवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान 38.6 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 28.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया.

Anil Mishara

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button