मध्यप्रदेश

हरदा में कृषि मंत्री कमल पटेल के प्रचार से एमपी में छाया नया रंग, हिंदी गानों के बाद ठेठ राजस्थानी गानों पर मची हुई है भाजपा के प्रचार की धूम

अजब एमपी के चुनाव में गजब किस्से नजर आने लगे है।चुनावी समर में कृषि मंत्री कमल पटेल की चुनावी शैली की चर्चा पूरे प्रदेश में बनी हुई है। भाजपा के कद्दावर एवं किसान नेता और हरदा विधानसभा से भाजपा के प्रत्याशी कमल पटेल के पूर्वज उनके कुल देवता कुलदेवी राजस्थान में रजे बसे हैं लेकिन उनका जन्म हरदा जिले के हरदा विधानसभा के ग्राम रातातलाई में हुआ । भाजपा प्रत्याशी पटेल शनिवार को दोपहर 2:00 बजे के बाद अपनी जन्मस्थली रातातलाई जनसंपर्क के लिए पहुंचेंगे और अपने स्वजनों और ग्रामीणों से आशीर्वाद लेंगे।

 

लेकिन ठेठ राजस्थानी परंपराओं को निभाता हुआ ग्राम रातातलाई में बसे स्थानीय ग्रामीणों ने भी इस बार ठान लिया है कि कमल पटेल का स्वागत ठेठ राजस्थानी अंदाज में करेंगे। सो फिर क्या था, हो गई शुरुआत राजस्थानी भाषा में बने ठेठ राजस्थानी गाने के प्रचार से। उस गाने के बोल हैं, रातातलाई की लाल माटी के लाल कमल पटेल। इसके बाद की पंक्तियां आप स्वयं सुनिए और आनंद उठाइए और पहुंचिए ठेठ राजस्थानी प्रचार को देखने कृषि मंत्री कमल पटेल की जन्मस्थली रातातलाई। आप भी प्रचार को देखकर दांतों तले उंगलियां दबा लेंगे।

एक दिन तो गुजारिए हरदा विधानसभा के ग्राम रातातलाई में वेलकम टू रातातलाई…….. यह भी हरदा में प्रचार का एक अनूठा और आश्चर्यजनक प्रचार का अंग बना हुआ है।लोगो के साथ पार्टी कार्यकर्ताओं में भी उत्साह नजर आ रहा है।

Anil Mishara

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button